सोलन : नप के कर्मचारियों ने किया चक्का जाम, SDM के समझाने के 6 घन्टे बाद खोला चक्का जाम 

सोलन। होर्डिंग हटाने गई नगर परिषद  सोलन की टीम पर हमले के मामले में आखिरकार एसडीएम सोलन को दखल देना पड़ा। एसडीएम  सोलन अजय यादव के दखल के बाद करीब छह घंटे बाद चक्का जाम खोल कर ट्रैफिक को सुचारू किया गया। वहीं, नगर परिषद की टीम पर हमले करने वाले आरोपी को पुलिस स्टेशन बुलाया गया है। प्रदर्शन खत्म कर नगर परिषद कर्मचारी भी थाने पहुंच गए हैं। मौके पर पहुंचे एसडीएम अजय यादव ने कहा कि मामले में पुलिस कार्रवाई करेगी। कर्मचारी मौके पर माफी मंगवाने की बात कर रहे थे, लेकिन जब पुलिस में मामला दर्ज हो गया तो ऐसा नहीं हो सकता था। क्योंकि मामला दर्ज होने के बाद माफी का कोई प्रावधान नहीं है।
कर्मचारियों को थाने में जाकर बात करने को समझाया। इसके बाद कर्मचारी मान गए और प्रदर्शन खत्म किया। उन्होंने कहा कि चक्का जाम में दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन जांच कर रहा है कि आखिर किसकी वजह से यह चक्का जाम लगा। वहीं, डीएसपी रमेश शर्मा ने कहा कि कर्मचारियों ने पहले नगर परिषद में शिकायत दी थी। नगर परिषद से उनके पास शिकायत पहुंची, जिसके खिलाफ शिकायत थी उसे भी बुला लिया गया था।
बता दें कि सोलन में होर्डिंग हटाने गई नगर परिषद सोलन (Nagar Parishad Solan) की टीम पर कुछ लोगों ने हमला (Attack) कर दिया। इसके बाद करीब 200 से अधिक नगर परिषद कर्मचारियों ने सोलन पुराना डीसी ऑफिस चौक पर धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया है। कर्मियों का कहना था कि हमारी जान की क्या कोई कीमत नहीं है। ऐसे में नगर परिषद को हमारी सुरक्षा के बारे में सोचना चाहिए। इसके साथ ही जिन लोगों ने उन पर हमला करने का प्रयास किया है उन्हें माफी मांगनी होगी, अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो वह काम पर वापस नहीं लौटेंगे।
सफाई कर्मचारी राजू ने बताया कि वह शहर के कुछ हिस्सों में पोस्टर ओर बैनर हटा रहे थे, इसी दौरान कुछ लोग चार-पांच गाड़ियों में हॉकी और बेसबॉल के डंडे लेकर आए और उन पर हमला करने लगे। इसके बाद सभी कर्मचारी एकत्रित हो गए और सभी सदर पुलिस थाना सोलन पहुंच गए। सभी ने यहां अपनी बात रखने का प्रयास किया, लेकिन उनकी बात को गंभीरता से नहीं लिया गया। इसके बाद सभी कर्मचारी नाराज होकर पुराना डीसी ऑफिस परिसर  के बाहर सड़क पर धरना करने बैठ गए। इसके साथ ही सड़क पर नगर परिषद के वाहनों को भी खड़ा कर दिया। सुबह करीब 9 बजे से शाम करीब 3 बजे तक प्रदर्शन जारी रहा और ट्रैफिक भी जाम रही। माहौल तनावपूर्ण होता देख एसडीएम सोलन अजय यादव और डीएसपी रमेश शर्मा मौके पर पहुंचे। एसडीएम के समझाने के बाद कर्मचारी माने और अपना प्रदर्शन खत्म किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here